कजाख नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी में पढ़ाई, आगे क्या?

कजाकिस्तान की कजाख नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी के बारे में हमने आपको कुछ समय पहले कुछ महत्वपूर्ण जानकारी दी थी। इस जानकारी को पढ़ने और जानने के बाद हमें बहुत से स्टूडेंट्स से अलग-अलग प्रतिक्रियाएं मिली हैं। सूत्रों से जो जानकारी अब हमें प्राप्त हो रही हैं, उसके मुताबिक अगले हफ्ते से कजाख नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी में एडमिशन की प्रक्रिया शुरू हो सकती है। जो स्टूडेंट्स पहले ही वहां पर एडमिशन ले चुके हैं, उनके सामने अब जिस तरह की परिस्थितियां हैं, वैसे में उनके लिए आगे क्या विकल्प मौजूद हैं, उसके बारे में इस लेख में हम आपको बता रहे हैं।

mbbs in kazakhstan

कंसल्टेंट्स निभाएं अपना दायित्व

इससे पहले हमने आपको कजाख नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी की सच्चाई से अवगत कराया था। हमने आपको वह राय दी थी, जो कि आपके लिए सबसे अच्छी हो। यह आप पर निर्भर करता है कि आप उसे मानें या न मानें। फिलहाल जो परिस्थितियां वहां मौजूद हैं, वैसे में कंसल्टेंट्स से हमारा यही अनुरोध होगा कि वे अपने स्टूडेंट्स के साथ खड़े रहें। वे स्टूडेंट्स की भलाई के लिए यूनिवर्सिटी से लड़ने के लिए भी तैयार रहें। यह इसलिए भी जरूरी है, क्योंकि यदि कंसल्टेंट्स ऐसा करते हैं तो इन्हीं स्टूडेंट्स के जरिए उन्हें आगे और भी स्टूडेंट्स मिलेंगे। इन कंसल्टेंट्स का मकसद पैसे कमाना था, जो इन्होंने कमा लिए हैं, लेकिन अब कम-से-कम स्टूडेंट्स का साथ देना इनका कर्तव्य बनता है। यदि स्टूडेंट्स खुश रहेंगे, यदि वे संतुष्ट रहेंगे, तो उन्हें किसी तरह की कोई शिकायत करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। कहीं पर उन्हें अपने मन का भड़ास निकालने की जरूरत नहीं होगी। यहां बहुत से स्टूडेंट्स ने पिछले लेख में दी गई हमारी राय को बहुत ही अच्छा बताया है। इसलिए कंसल्टेंट्स को चाहिए कि वे स्टूडेंट्स के हितों के लिए यूनिवर्सिटी से लड़ जाएं। उन्हें यूनिवर्सिटी को वह रास्ता बताने की जरूरत नहीं है कि स्टूडेंट्स के साथ उन्हें क्या करना है।

स्टूडेंट्स के भविष्य से न हो खिलवाड़

उदाहरण के लिए हमें कुछ स्टूडेंट्स से यह पता चला है कि किस तरीके से डीन को एक कठपुतली की तरह यूज किया जाता है। कई चीजें बोली जाती हैं। कई चीजें उनसे चीजें बुलवाई जाती हैं। आखिरकार भारतीय स्टूडेंट्स को ही परेशानी का सामना करना पड़ता है। इन सभी स्टूडेंट्स के पैरेंट्स ने इन कंसल्टेंट्स पर ही भरोसा करके अपने बच्चों को वहां पढ़ने के लिए भेजा था। कंसल्टेंट्स यदि पैसे कमा रहे हैं, तो इससे न तो स्टूडेंट्स को और न ही उनके पैरेंट्स को कोई आपत्ति है। पैसे तो इन कंसल्टेंट्स ने कमा लिये हैं, लेकिन जो मेडिकल स्टूडेंट्स पढ़ाई करने के लिए विदेश गए हैं, उनका मकसद है ऐसी मेडिकल एजुकेशन पाना, जहां पर कि उन पर किसी तरह का दबाव नहीं डाला जाए और जहां पर कि उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं किया जाए।

कंसल्टेंट्स करें मदद

इन कंसल्टेंट्स को स्टूडेंट्स की मदद करनी चाहिए। यदि स्टूडेंट्स को टीचर्स नहीं मिल रहे हैं, उनके क्लासेस टाइम से नहीं चल रहे हैं, तो इन कंसल्टेंट्स को स्टूडेंट्स के साथ खड़े होकर यूनिवर्सिटी से लड़ना चाहिए। यदि वे ऐसा करेंगे तो ये स्टूडेंट्स भी उनके लिए बहुत कुछ करने के लिए तैयार रहेंगे। स्टूडेंट्स को सपोर्ट करने से भविष्य में इन कंसल्टेंट्स को ही लाभ मिलेगा। यदि कंसल्टेंट्स इन स्टूडेंट्स की मदद नहीं करते हैं, तो ऐसे में स्टूडेंट्स को हम दूसरा रास्ता बता रहे हैं।

ध्यान दें स्टूडेंट्स

जो 2020 के स्टूडेंट्स हैं, वे पढ़ाई करते-करते वहां के माहौल से पूरी तरीके से वाकिफ हो चुके हैं। वे पहले से ही कजाकिस्तान में हैं। ऐसे में जब उनके एग्जाम हो जाते हैं और रिजल्ट आ जाते हैं, तो उसके बाद वे चाहें तो अपनी सुविधानुसार बस से, ट्रेन से या फ्लाइट से अलग-अलग यूनिवर्सिटी को विजिट कर लें। वहां कम-से-कम 40 से 50 स्टूडेंट्स से बात करें और उनसे पूछें कि वहां किस तरह की पढ़ाई होती है। उन्हें किस तरह की फैसिलिटी यूनिवर्सिटी की तरफ से मिली है। वहां जाकर उन्हें यह पता करना चाहिए कि क्या वहां पर स्टूडेंट्स संतुष्ट हैं। क्या वहां उन्हें सही सुविधाएं मिल रही हैं? इसके बाद उन्हें जो भी प्रतिक्रिया मिलती है, उनमें से ज्यादातर स्टूडेंट्स की जो प्रतिक्रिया मिली है, उसे आधार बनाते हुए वे यह निर्णय ले सकते हैं कि उन्हें क्या करना है।

ट्रांसफर का विकल्प

वर्ष 2021 में जो गजट नोटिफिकेशन आया है, उससे पहले जो स्टूडेंट्स एडमिशन ले चुके हैं, उनके लिए ट्रांसफर का विकल्प खुला हुआ है। यदि आप उन स्टूडेंट्स में से एक हैं, जिन्हें कंसल्टेंट्स का सपोर्ट नहीं मिलता है, यदि कंसल्टेंट्स आपको  परेशान करते हैं, तो ऐसे में आप अपने कॉलेज को बदल सकते हैं। इसके लिए आपको खुद अलग-अलग कॉलेजों में जाना चाहिए और वहां जाकर यह पता करना चाहिए कि वहां पर किस तरह की सुविधाएं मिल रही हैं। वहां के फैकल्टीज कैसे हैं? वहां आपके लिए फीस कितनी बढ़ जाएगी? पूरा बजट आप अच्छी तरह से बना लें। इसके बाद आप अपनी यूनिवर्सिटी को बदल सकते हैं।

आप पहले से ही कजाकिस्तान में हैं। आपको किसी और की बात सुनने की जरूरत नहीं है। हमारा मकसद आपको किसी भी खास यूनिवर्सिटी में भेजने का नहीं है। आपका हम गलत मार्गदर्शन भी नहीं करना चाह रहे हैं, लेकिन यदि आप वहां परेशान हैं और आपको हमारे कंसल्टेंट्स भाइयों का समर्थन नहीं मिल रहा है, तो आपके पास ट्रांसफर का विकल्प बिल्कुल मौजूद है।

ये है आपकी पहचान

इसके अलावा स्टूडेंट्स को हम यह भी बताना चाहेंगे कि यदि आप कजाख नेशनल यूनिवर्सिटी में पढ़ने के लिए गए हुए हैं, तो आप कंसल्टेंट्स के पीछे-पीछे बिल्कुल भी न चलें। आप अपने बैचमेट्स के साथ रहें, क्योंकि भविष्य में भी आपके बैचमेट्स ही काम आएंगे न कि ये कंसल्टेंट्स। आपकी पहचान कजाख नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट के रूप में रहेगी। कंसल्टेंट्स से भी हमारी यही अपील है कि वे जितना संभव हो सके इन स्टूडेंट्स की मदद जरूर करें। यदि आपके पास किसी तरह की कोई जानकारी है या फिर आप हमसे कुछ जानना चाहते हैं, तो आप कमेंट सेक्शन में या फिर चैट बॉक्स में आकर हमसे संपर्क कर सकते हैं।

YouTube

Already have an account? Log in