फिलीपींस में जो भारतीय स्टूडेंट्स एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे हैं, उनके लिए मनीला में भारतीय दूतावास की ओर से FMC लाइसेंसिएट रेगुलेशंस, 2021 की एप्लीकेबिलिटी यानी कि इसे लागू किये जाने को लेकर कुछ महत्त्वपूर्ण दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। इनमें कहा गया है कि दूतावास की तरफ से जो बीते 15 दिसंबर को दिशा-निर्देश जारी किए गए थे, उसे लेकर उसके पास बहुत से सवाल पूछे हैं, जिसे देखते हुए दूतावास की तरफ से भारत के नेशनल मेडिकल कमिशन (NMC) से NMC के FMC लाइसेंसिएट रेगुलेशंस, 2021, जो कि बीते 18 नवंबर को जारी किया गया था, उसकी फिलिपिंस में ब्रिजिंग BS कोर्सेज कर रहे भारतीय स्टूडेंट्स पर एप्लीकेबिलिटी को लेकर क्लेरिफिकेशन की मांग की गई थी।

study in philippines

स्पेशल रिलैक्सेशन की जरूरत

ऐसे में दूतावास की तरफ से सभी को यह बता दिया गया है कि नेशनल मेडिकल कमिशन के अंडर ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन बोर्ड (UGMEB) ने इन रेगुलेशंस को लागू किए जाने की पुष्टि कर दी है और साथ में यह भी बताया है कि जो स्टूडेंट्स वर्तमान में BS कोर्सेज की पढ़ाई कर रहे हैं और 18 नवंबर, 2021 के बाद जिनका मेडिकल डिग्री कोर्स शुरू हो रहा है, उन्हें एनएमसी से स्पेशल व्यवस्था या रिलैक्सेशन की जरूरत पड़ेगी।

सीधे NMC के सामने जाएं

मनीला में भारतीय दूतावास की तरफ से यह भी बताया गया है कि इस मामले में दूतावास की ओर से NMC के सामने स्टूडेंट्स को लेकर सिंपैथेटिक यानी कि सहानुभूतिपूर्ण रवैया अपनाने का अनुरोध भी किया गया था। हालांकि, दूतावास का यह कहना है कि यह मामला भारत के इंटरनल रेगुलेटरी डिसीजन से संबंधित है। ऐसे में जो भारतीय स्टूडेंट्स इन रेगुलेशंस की वजह से प्रभावित हो रहे हैं, उन्हें इस मामले को सीधे एनएमसी के सामने लेकर जाना चाहिए।

यह जरूर देख लें

जो भारतीय स्टूडेंट्स फिलीपींस में मेडिकल कॉलेज की पढ़ाई करने जा रहे हैं, उनसे भारतीय दूतावास ने एक बार फिर से यह अनुरोध किया है कि वे यह जरूर देख लें और सुनिश्चित कर लें कि फिलीपींस में जिन स्थानीय कोर्सेज की वे पढ़ाई कर रहे हैं, वे नए NMC रेगुलेशंस की सभी क्राइटेरिया को पूरा कर रहे हैं या नहीं।

इस तरह से फिलीपींस में भारतीय दूतावास ने भारतीय स्टूडेंट्स की मदद के लिए ये दिशा-निर्देश जारी किए हैं और इन दिशा

YouTube

Already have an account? Log in