बहुत से ऐसे स्टूडेंट्स हैं, जो विदेशों में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे हैं और साथ में उनके यूट्यूब चैनल्स भी हैं। इस लेख में हम ऐसे ही यूट्यूबर स्टूडेंट्स को कुछ महत्वपूर्ण सलाह देने जा रहे हैं। वे चाहें तो इस सलाह को मान भी सकते हैं और नहीं भी, लेकिन हम समझते हैं कि इससे ज्यादातर स्टूडेंट्स और पैरेंट्स सहमत होंगे।

mbbs from abroad

इन चीजों को करें शेयर

आप जिस भी देश में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे हैं, चाहे वह रुस हो, चीन हो, फिलीपींस हो या यूक्रेन हो या फिर कोई भी और देश हो, सबसे पहले आप उस देश की मेडिकल एजुकेशन के बारे में लोगों को बताने की कोशिश कीजिए। आप लोगों को यह बताइए कि वहां का एजुकेशन सिस्टम किस तरीके का है। आप जिस यूनिवर्सिटी में पढ़ाई कर रहे हैं, उस यूनिवर्सिटी के डिटेल्स आप शेयर करें। आपके जो लेक्चर्स यूनिवर्सिटी में हो रहे हैं, आप उनके कुछ वीडियोज पोस्ट कर सकते हैं। आप यह बता सकते हैं कि आपके टीचर्स किस तरह के हैं। किस तरीके से वे आपको पढ़ा रहे हैं। आपकी यूनिवर्सिटी में जो लेबोरेटरीज हैं और वहां जो हॉस्पिटल्स मौजूद हैं और साथ में क्लिनिकल प्रैक्टिस के दौरान जो आपसे चीजें करवाई जा रही हैं, इन सभी के बारे में आपके लिए जितना भी वीडियो रिकॉर्ड करके अपलोड करना संभव हो, आप वह जरूर करें। इस तरह की डिटेल्स आपको स्टूडेंट्स के साथ शेयर करने की कोशिश जरूर करनी चाहिए। इससे उन्हें बहुत मदद मिलेगी।

इसकी भी दें जानकारी

साथ ही जिस इलाके में आप रह रहे हैं, वहां पर किस तरह के हॉस्टल्स मौजूद हैं, आपकी यूनिवर्सिटी के हॉस्टल्स कैसे हैं, वहां यदि आप फ्लैट में रह रहे हैं, तो फ्लैट्स में किस तरह का किराया आपको भरना पड़ता है, वहां मासिक खर्च कितना आता है, इन सभी चीजों के बारे में आपको बताना चाहिए। वह इसलिए कि यदि आप रुस में बैठे हैं और आप यह बता रहे हैं कि यूक्रेन में ऐसा होता है या चीन में कुछ ऐसी चीजें होती हैं, तो आप तो वहां गए नहीं हैं, ऐसे में आप जमीनी हकीकत को कैसे जान सकते हैं।

यूट्यूबर्स से है ये अनुरोध

ज्यादातर अब तक ऐसा ही हो रहा है कि जो भी यूट्यूबर्स हैं, वे कंसल्टेंट्स ही बन चुके हैं। वे भी लगभग एडमिशन कराने का काम कर रहे हैं। इसमें कुछ बुरा भी नहीं है। आपको यह करना चाहिए, लेकिन हमारा आप सभी से यह अनुरोध है कि आपको जिस लक्ष्य के साथ आपके पैरेंट्स ने वहां मेडिकल की पढ़ाई के लिए आपको भेजा था, उस काम को आप सबसे पहले पूरा कर लें। ऐसे पैरेंट्स, जिनके बच्चे यूट्यूबर्स बन चुके हैं और उन्हें यह लग रहा है कि वे रास्ते से भटक गए हैं, तो उनसे हम कहना चाहेंगे कि आप उन्हें अब भी रास्ते पर ला सकते हैं, ताकि कल को ऐसा न हो कि वे NEXT और FMGE को क्वालीफाई न कर पाएं। वास्तव में ये एग्जाम्स बहुत ही कठिन होते हैं। इन्हें पास करना इतना भी आसान नहीं होता है। अभी कुछ दिनों पहले ही FMGE का रिजल्ट भी आया है, जिसमें 24 से 25 परसेंट ही पास हो चुके हैं।

तय करें अपनी प्राथमिकताएं

इसके अलावा जितने भी स्टूडेंट्स मेडिकल की पढ़ाई करने के लिए विदेश जाते हैं, उनमें से ऐसे स्टूडेंट्स का एक तबका होता है, जो कभी FMGE को पास नहीं कर पाता है। तो ऐसे में आपको यह तय करना है कि आपकी प्राथमिकताएं क्या हैं? दूसरों को ज्ञान देना आपकी प्राथमिकता है या फिर अपनी एजुकेशन को अच्छी तरीके से पूरा करना आपकी प्राथमिकता है। बाकी किसी भी तरह की शंका यदि आपके मन में हो, तो वह आप कमेंट सेक्शन में या चैट बॉक्स में आकर हमसे शेयर कर सकते हैं। आपकी मदद करके हमें हमेशा खुशी का ही अनुभव होता है।

YouTube

Already have an account? Log in