यदि हम रुस में एमबीबीएस की पढ़ाई के बारे में बात करते हैं, तो एमबीबीएस की पढ़ाई करने के लिए यह दुनिया के सबसे अच्छे देशों में से एक है। रुस एक ऐसा देश है, जो स्टूडेंट्स को सबसे अच्छी क्वालिटी की मेडिकल एजुकेशन उपलब्ध कराता है। यही कारण है कि हर साल दुनियाभर से बड़ी संख्या में स्टूडेंट्स सस्ती और सबसे बेहतर मेडिकल शिक्षा हासिल करने के लिए रुस पहुंचते हैं। इसके अलावा रुस की मेडिकल यूनिवर्सिटीज की यह खासियत है कि यहां पर मेडिकल एजुकेशन बहुत ही अच्छी तरीके से व्यवस्थित है। यहां का जो एजुकेशनल सिस्टम है, वह भी बड़े ही ऊंचे स्तर का है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की डायरेक्टरी में जो दुनियाभर के सबसे अच्छे मेडिकल विश्वविद्यालय के नाम मौजूद हैं, उनमें रुस की भी 30 से भी ज्यादा यूनिवर्सिटीज मौजूद हैं।

रुस में करें एमबीबीएस की पढ़ाई

जो भारतीय स्टूडेंट्स रुस में एमबीबीएस की पढ़ाई करने के लिए जाते हैं, उन्हें बहुत से लाभ मिलते हैं। भारतीय स्टूडेंट्स को रुस में एमबीबीएस में एडमिशन लेने के लिए किसी भी तरह की प्रवेश परीक्षा में शामिल होने की जरूरत नहीं होती है। रुस की यूनिवर्सिटीज की यह विशेषता भी है कि वहां पर एडमिशन लेने के दौरान किसी भी तरह का डोनेशन नहीं लिया जाता है। रुस की मेडिकल यूनिवर्सिटीज में एडमिशन पाना भारत के प्राइवेट मेडिकल यूनिवर्सिटीज और कॉलेजों में एडमिशन पाने की तुलना में बहुत ही आसान है। रुस की सरकार की तरफ से जो सब्सिडी दी जाती है, उसकी वजह से यहां की मेडिकल यूनिवर्सिटीज में एमबीबीएस का फीस स्ट्रक्चर भी ऐसा है, जिसे कि भारतीय स्टूडेंट्स आसानी से अफोर्ड कर सकते हैं। भारतीय स्टूडेंट्स यदि रुस की मेडिकल यूनिवर्सिटीज से एमबीबीएस की डिग्री हासिल करते हैं, तो इस डिग्री को पूरी दुनिया में मान्यता मिली हुई है। रुस में जीवन स्तर भी बहुत ही ऊंचा है। भारतीय स्टूडेंट्स को रुस में एमबीबीएस की पढ़ाई करने के दौरान एक बड़ा फायदा यह भी मिलता है कि उन्हें ऐसा भोजन आसानी से नसीब हो जाता है, जिसे कि वे रुचि लेकर खा सकें। रुस की कई यूनिवर्सिटीज में भारतीय कैंटीन बने हुए हैं। रुस में कोई भी प्राइवेट यूनिवर्सिटीज मौजूद नहीं हैं। यहां जितने भी यूनिवर्सिटीज हैं, ये सभी रुसी सरकार के ही हैं।

रुस में एमबीबीएस में कैसे पाएं एडमिशन?

रुस की मेडिकल यूनिवर्सिटीज में एडमिशन पाना बहुत ही आसान है। जगविमल कंसल्टेंट्स की ओर से तैयार की गई उन चीजों की एक लिस्ट यहां आपको दी जा रही है, जिन्हें आपको रुस में एडमिशन पाने के लिए करना चाहिए:-

  • सबसे पहले एडमिशन के एप्लीकेशन को बहुत ही अच्छी तरीके से सावधानी के साथ भर लें।
  • इसके बाद आपको ऑफर लेटर मिल जाएगा।
  • अब आपको इनरोलमेंट फीस भी जमा कर देनी है।
  • एक बार जब आपने रुस में एमबीबीएस के लिए फीस जमा कर दी है, तो अब आप वीजा के लिए अप्लाई करें।
  • वीजा हासिल करें और रुस के लिए उड़ान भर लें।

रुस की मेडिकल यूनिवर्सिटीज में MBBS में एडमिशन पाने के लिए आपको पड़ सकती है इन दस्तावेजों की जरूरत

  • कम-से-कम 18 महीने की वैधता के साथ पासपोर्ट।
  • 10वीं और 12वीं के सर्टिफिकेट।
  • 4 पासपोर्ट आकार के फोटोग्राफ्स।
  • जन्म प्रमाण-पत्र
  • रुस की मेडिकल यूनिवर्सिटी से अप्रूवल का लेटर।
  • मिनिस्ट्री ऑफ एक्सटर्नल अफेयर्स (नई दिल्ली) से सभी दस्तावेजों का ऑथोराइजेशन।
  • आपके एचआईवी टेस्ट के डाक्यूमेंट्स।
  • वीजा की फीस के पेमेंट की रिसीप्ट।
  • किसी रुसी दूतावास से आपके सभी दस्तावेजों के जांच का प्रमाण।
  • यूनिवर्सिटी के +1 ईयर की ट्यूशन फीस की रिसीप्ट।

रुस में एमबीबीएस में दाखिला लेने के लिए टॉप यूनिवर्सिटीज

YouTube

Already have an account? Log in